AMAZING FACTS – DRINKING WATER IN INDIA

भारत में पेयजल के अद्भूत तथ्य भारत में विश्व की 16% जनसंख्या रहती है, परन्तु भारत में फ्रेश वाटर की उपलब्धता कुल 4% ही है (विश्व में उपलब्ध जल का %)। भारत फ्रेश वाटर की समस्या से संघर्ष कर रहा है। • भारत में करीब 16.3 करोड़ लोगों को पीने का शुद्ध जल नहीं मिल … Read moreAMAZING FACTS – DRINKING WATER IN INDIA

History of Water Purification (Part 2)

FIRST Water Purification Started in the (1700 AD) WORLD – for Domestic Use    (Part-2) पहली बार विश्‍व में घरेलु पेयजल शुद्धीकरण का प्रारंभ कब से हुआ । In the 1700s the first water filters for domestic application were applied. These were made of wool, sponge and charcoal. In 1804 the first actual municipal water treatment … Read moreHistory of Water Purification (Part 2)

HOW MUCH WATER SHOULD DRINK IN A DAY ?

HOW MUCH WATER SHOULD DRINK IN A DAY……… एक दिन में कितना पानी पीयें ………… यह ब्‍लॉग बहुत सारी वेबसाइट पर मनुष्‍य को एक दिन में कितना पानी पीना चाहिए के विस्‍तृत विवरणों के अध्‍ययन के आधार पर बनाया गया है। यह सामान्‍य दिनचर्या करने वाले स्‍त्री-पुरूष पर लागू होता है। इसमें उम्र की सीमा … Read moreHOW MUCH WATER SHOULD DRINK IN A DAY ?

How much TDS in Drinking Water ?

How much TDS in Drinking Water ? पेयजल में TDS की मात्रा कितनी होनी चाहिए ? TDS means TOTAL DISSOLVED SOLIDS in drinking water or any source of water. Solids means any types of minerals, salts, metals and other chemical dissolved in water. This TDS measures in “Milligrams per unit volume” or says “Parts per … Read moreHow much TDS in Drinking Water ?

What is Water Purification (Must Read)

Water purification is the process of removing undesirable chemicals, biological contaminants, suspended solids and gases from water. The goal is to produce water fit for a specific purpose. Most water is disinfected for human consumption (drinking water), but water purification may also be designed for a variety of other purposes, including fulfilling the requirements of medical, … Read moreWhat is Water Purification (Must Read)

History of Water Purification (part-1)

जल शुद्धिकारण का इतिहास (भाग-1) – आज से 500 साल पहले विश्व एवं भारत में इतनी ज्यादा प्रदूषण का विस्तार नहीं था। वर्षा का जल जब भूजल के सतह पर जाकर मिलती तो भूस्तर ही पानी में मिला प्रदूषण को सोख लेती थी। परन्तु जैसे-जैसे मानव का मानसिक विकास हुआ, अपने दैनिक जीवन में प्रयोग … Read moreHistory of Water Purification (part-1)